Sarkari Yojna

Kisan Rail Yojna 2020: किसान रेल योजना ऑनलाइन बुकिंग, ट्रैन लिस्ट, रजिस्ट्रेशन, देखें पूरी डिटेल्स

kisan Rail Yojna 2020:- नमस्कार दोस्तों, किसान रेल योजना यह केंद्र सरकार की एक योजना है, जो किसानों के लिए शुरू की गई है. इस योजना में माध्यम से केंद्र सरकार और भारतीय रेलवे के द्वारा मुख्य रूप से देश के किसानों को लाभ पहुँचाने के लिए 7 अगस्त से शुरू की गई है. बता दें की इस योजना के अंतर्गत सभी किसानों के लिए भारतीय रेलवे द्वारा एक नई ट्रेन को चलाया जायेगा, जिसके तहत जल्द ख़राब होने बाले फल, सब्जी या अन्य प्रकार के खाद्य पदार्थों को किसान रेल सेवा के माध्यम से मंडियों तक पहुचाया जायेगा. और इससे सब्जियां, फल, दूध, दही एवं अन्य कृषि उत्पादों को खराब होने से बचाया जायेगा. जहाँ पहले किसान की मेहनत किए हुए चीजें जो मंडी पहुंचने से पहले हीं खराब हो जाती थी, बहीं अब किसान योजना के द्वारा किसानों की सब्जियों और तरह-तरह के खाद्य पदार्थों को मंडियों तक सही समय पर पहुंचाया जाएगा|

बता दें की किसान रेल योजना की घोषणा बीत मंत्री निर्माला सितारमण के द्वारा फरबरी 2020 में पेश होने बाले बजट में कर दी गई थी, हालाँकि इस योजना को सम्पूर्ण रूप से 7 अगस्त 2020 को शुरू करने का आदेश दिए गए हैं. इसलिए आज के इस आर्टिकल में Kisan Rail Yojna से जुड़ी सभी जानकारी जैसे ऑनलाइन बुकिंग, ट्रेन लिस्ट, रजिस्ट्रेशन आदि शेयर किया जा रहा है. आप इस लेख को अंत तक पढ़कर इस योजना का लाभ उठा सकते हैं|

किसान रेल योजना 2020

किसान रेल योजना के तहत भारतीय रेलवे के द्वारा 7 अगस्त 2020 से पहली ट्रेन चलाया गया है, जानकारी के माने तो रेलवे ने बृहस्पतिवार को कहा है की ऐसी पहली रेलगाड़ी जो महाराष्ट्र के देवलाली से बिहार के दानापुर के बिच चलाई जा रही है. यह ट्रेन सुबह 11 बजे महाराष्ट्र के देवलाली स्टेशन से रवाना होगी और बिहार के दानापुर रेलवे स्टेशन तक जाएगी, और यह किसान रेल इन दो स्टेशनों के बीच लगभग 1519 KM का सफर करीब 32 घंटे में तय करेगी|

Indian Train Wallpapers HD Download - Indian Train Wallpapers HD ...

आसपास के इलाकों में बड़ी मात्रा में ताजी सब्जियां, फल, फूल, तथा अन्य कृषि उत्पादों का उत्पादन होता है, और इन उत्पादों को यदि ठीक से रखरखाव नहीं होते हैं तो ये बहुत जल्द खराब हो जाते हैं. ये कृषि उत्पाद नासिक के इन इलाकों से बिहार के पटना, उत्तर प्रदेश के इलाहाबाद, मध्य प्रदेश के कटनी जैसे और भी अन्य क्षेत्रों में भेजे जाते हैं. इसलिए केंद्र सरकार ने किसानो के हित के लिए एक बहुत अच्छी पहल की है. देश के जो इच्छुक लाभार्थी किसान Kisan Rail Yojana 2020 का लाभ उठाना चाहते है तो उन्हें किसान रेल योजना ऑनलाइन बुकिंग  करने के लिए रजिस्ट्रेशन करना होगा|

किसान रेल योजना २०२० – ओवरव्यू

योजना का नामकिसान रेल योजना 2020
द्वारा शुरू की गईकेंद्र सरकार द्वारा
लाभार्थीदेश के किसान भाई
उद्देश्यकिसानो की फसलों को मंडी तक पहुंचाने के लिए ट्रैन की सुविधा प्रदान करना

किसान ट्रेन योजना का उद्देश्य

यह योजना खास तौर पर किसानों के लिए बनाई गई है, अभी आप जान रहे होंगे की देश में COVID-19 संक्रमण जबरदस्त तरीके से पुरे देश भर में कोहराम मचा के रखा हुआ है, इसके कारण देश के सभी नागरिकों को काफी समस्याओं का सामना करना पढ़ रहा है. खास कर किसानो को अपनी फसलों को बहार बेचने में ज्यादा दिक्कते हो रही है, वे अपने फसलों को समय से मंडी तक नहीं पहुंचा पा रहे है. इन्ही सब समस्या को देखते हुए सरकार द्वारा इस योजना को आरंभ किया गया है, जिससे किसान अपनी सब्जी, फलो को समय से सुरक्षित मंडी तक पंहुचा सकते हैं. मुख्य रूप से इस योजना का उद्देश्य किसान भाइयों की आय में वृद्धि करना है, जिससे वह अपनी जीवन को अच्छे से चला सकें|

किसान रेल योजना 2020 क लाभ

  • इस योजना का लाभ सिर्फ देश के किसानों को मिलेगा.
  • इस योजना में किसानों की फसलों को समय पर मंडियों तक रेलगाड़ी के द्वारा पहुंचाया जाएगा, जो फल सब्जियां, अनाज ऐसी फसलें जल्द खराब हो जाती है.
  • इस योजना का सर्वप्रथम लाभ महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार के किसानों को मिलेगा.
  • इस योजना के तहत ट्रेन विशेष रुप से किसानों के लिए हीं चलाई जाएंगी.
  • और इन ट्रेनों में कोल्ड स्टोरेज की भी व्यवस्था की जाएगी.
  • केंद्र सरकार द्वारा वर्ष 2022  तक किसानों की आय को दोगुनी करने का लक्ष्य रखा है.

किसान रेल योजना के रूट

यह ट्रेन देवलाली से चलने के बाद नासिक रोड़, मनमाड़, जलगांव, भुसावल, बुरहानपुर, खंडवा, इटारसी, जबलपुर, सतना, कटनी, मणिकपुर, प्रयागराज, पंडित दीनदयाल उपाध्याय नगर होते बक्सर से दानापुर में रुकेगी. यह किसान रेल ताजी सब्जियां, फल, फूल तथा अन्य कृषि उत्पादों को मंडी तक पहुंचाने का काम करेगी|

7 अगस्त से शुरू हुई ये विशेष ट्रेन 20 अगस्त तक हर शुक्रवार को देवलाली से दानापुर के लिए चलेंगी, और पर्त्येक रविवार को दानापुर से देवलाली के लिए चलेगी. इस ट्रेन से महाराष्ट्र, मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और बिहार के किसानों को ज्यादा फायदा होगा|

किसान रेल के प्रति टन किराया

किसान रेल योजना के तहत देश के किसानो को इस ट्रेन से अपनी फसलों सब्जियां, फल, दूध आदि जैसे और भी अन्य खाद्य पदार्थों को मंडी तक पहुंचने के लिए प्रति टन के हिसाब से किराया देना होगा|

नासिक रोड / देवलाली से दानापुर 4001 रुपए, मनमाड से दानापुर 3849 रुपए, जलगांव से दानापुर 3513 रुपए, भुसावल से दानापुर 3459 रुपए, बुरहानपुर से दानापुर 3323 रुपए जबकि खंडवा से दानापुर के लिए 3148 रुपए प्रति टन के हिसाब से देना होगा|

किसान रेल योजना में ऑनलाइन बुकिंग कैसे करें ?

अगर देश के जो भी लाभार्थी किसान इस किसान रेल योजना 2020 का लाभ उठाने के लिए इच्छुक हैं, तो उन्हें अभी कुछ दिन और इन्तेजार करना होगा, क्योंकि इस योजना के अंतर्गत किसान रेल की बुकिंग के लिए रजिस्ट्रेशन की कोई जानकारी अभी तक उपलब्ध नहीं है. इसलिए इस योजना के तहत जैसे की ऑनलाइन बुकिंग की प्रक्रिया और ट्रेन लिस्ट को जारी किया जायेगा हम इस पेज के माध्यम से आप सभी को अपडेट करेंगे. उसके बाद आप ऑनलाइन ट्रेन की बुकिंग कर सकते हैं|

ऑफिसियल लिंक

और यदि आप इस Kisan Rail Yojna से सम्बंधित और भी अधिक जानकारी प्राप्त करना चाहते हैं तो आप ऊपर दिए गए ऑफिसियल लिंक पर क्लिक कर सकते हैं|

About the author

A to Z Classes

We provide you latest job information, shortcut math tricks, shortcut gk tricks and a lot of updates in Hindi. So Bookmark this site by Ctrl+D on You Laptop :)

Leave a Comment